Achook Upay

How to make best oil for joint pain (जोड़ो के दर्द के लिए तेल)

Written by admin

How to make best oil for joint pain / जोड़ो  के  दर्द  के  लिए तेल कैसे बनाये ?

आज कल के time मै भागदौड़ भरी ज़िन्दगी मैं सिर्फ बढ़ती उम्र मै ही नहीं बल्कि युवक, बचो को भी  दर्द होता है! इसलिए या जोड़ो का दर्द आम है! बढ़ती हुए उम्र में कई तरह की bimariyo आपको जकड़ने लगती हैं।जोड़ो का दर्द  उनमें से सबसे आम बीमारी है।

लेकिन ज़्यादातर दर्द  लोग इसके को तब तक नजरअंदाज करते रहते हैं जब तक कि वह bhayannk रूप धारण न कर ले।

इस situation में आने के बाद दवा खाने और लेप या रोग़न (ointment) लगाने के सिवा कोई चारा नहीं बचता है।

इस paristhiti में आप natural तरीके से भी जोड़ो के दर्द से राहत पा सकते हैं,

वह natural तरीका है- castor oil se massage karna chayei 

Read also :-

क्या अरंडी के तेल से सच मे दर्द काम होता  है ?

आम तौर पर अरंडी के तेल (castor oil) या अरंडी के तेल के तेल से जोड़ों के दर्द का इलाज किया जाता है। में मूल रूप से जोड़ों में दर्द होता है।

Arthritis castor oli ka anti-inflammatory ke gun se dard ko kam karta hai. यह तेल प्रतिरक्षी तंत्र (immune system) को संतुलित  करके anti-body को बनाता है

जो सूजन को कम करता है। त्वचा castor oil को जल्दी सोखता है और उसका anti-inflammatory गुण जोड़ो के दर्द एवं उससे संबंधित लक्षणों को कम करके मसल्स और धमनी या नाड़ी के सूजन को कम करता है।

Motapa Kam Karne Ke Liye Yoga In Hindi

Precise remedy for arthritis/ आर्थराइटिस  के  लिए  अचूक  उपाय 

अरंडी के तेल (Castor oil) में रात भर कपड़े को भिगोकर रखने के बाद अतिरिक्त तेल को निचोड़कर निकाल लें। उसके बाद कपड़े को दर्द वाले जगह पर लगाकर रखें।

आराम पाने के लिए उसके ऊपर कम-से-कम एक घंटे heating pad रखें। इस प्रक्रिया को 15 din में एक बार करें। जोड़ो  मै  दर्द  न होने पर भी इसको कर सकते हैं।

Aap khud hi ghar par batikar ek acha dard nivaarak tal tayar kar sakta hai.

Ingredient

  • काली  उडद (pluse dried beans) (करीब 10 ग्राम),
  • बारीक पीसा हुआ अदरक (4 ग्राम)
  •  पिसा हुआ कर्पूर (2 ग्राम)
  •  सरसो का तेल mustard oil til ka tal sesame oil  (50 मिली)
  •  5 minute तक गर्म किया जाए और इसे छानकर तेल अलग कर लिया जाए!

 Method of oil making / तेल  बना  की  विधि 

जब तेल गुनगुना हो जाए तो इस तेल से दर्द वाले हिस्सों या जोड़ों की मालिश, जल्द ही दर्द में तेजी से आराम मिलता है, ऐसा दिन में 2 se 3 बार किया जाना चाहिए।

यह तेल गठिया arthritis जैसे दर्दकारक रोगों में भी आरम  से  ठीक  हो  जाता  है

Nimbu ke fayade 

Some effective remedies/Kuch assardar upay

Nimbu ka fyaad (lemon peel)

शायद आपको  यहाँ  पता  न  हो  आपका  घर  मे  एक  ऐसे  fruit है

जो  पुराने से  पुराने  जोड़ो  के  दर्द ( chronine joint pain ) को  खत्म  कर देगा  .

जिस    fruit की  हम  बात  कर  रहा  है  वो  किए  तरह  के  पौषणा   तवा  से  भरपूर  है

जैसे  के magnesium potassium,calcium,folic,acid,pectin,phosphours,bioflavonoid,vitaminA,C,B1,B6 और  इस  fruit का  नाम  है . निम्बू वैसा  तो  आपने  निम्बू के  फयाद  के  बारे  मै  जुरा  सुना  होगा  लेकिन  आपको

किसी  न  यहाँ  नहीं  बातया  होगा   के  निम्बू  का  छिलका (lemon peel)  जोड़ो  के  दर्द से parashna patients के  लिए  वरदान है आप  न  (lemon peel) से  जोड़ो  का  पूर्ण  दर्द  भी  दूर  कर  सकता  है .

Benefits of alma 

2 lemon peel, Olive oil

पहला निम्बू  का  छिलका (lemon peel) को गिलास  जरा मै  डेल  लीएजी और

फिर  उसमे  थोड़ा से olive oil के  प्रयोग  करा फिर गिलास  जरा  को  अच्छी  तरह  बंदा  करना  के  बंदा दो

हफ्ते two weeks के  लिए  इससे  वैसा  ही  छोड़ा  दे.

दो हफ्ते two weeks के बाद   आपका  तेल  पूरी  तरह  से  रेडी  होगा  फिर  किस भी  भी  रश्मी  कपडे  मै  थोड़ा  से  olive oil तेल  को

जिस जगह  दर्द हो  वाली  जगह  पर  लगया  और  बांडेजा   से  कवर  कर  ला  और  पूरी  रात  इससे  आपने  काम  करना  दे   .

benefits of aloe vera 

This oil will remove all kinds of pain /हर प्रकार के दर्द को दूर कर देगा ये तेल।

ये तेल पीठ दर्द, कमर का दर्द, हिप-शूल, मांसपेशियों के दर्द, जोड़ों के दर्द, घुटनो के दर्द, कंधे की जकड़न, गर्दन का दर्द (cervical spondolaities), वात विकार से पैदा हुए

आदि दर्दो में ये तेल अदभुत रिजल्ट देता हैं। अगर आपके शरीर में कहीं भी दर्द हो तो ये तेल एक बार ज़रूर अपनाये, ये बनाने में भी बहुत आसान हैं।

Let’s learn how to make these oils./ आइये जाने ये तेल बनाने की विधि।

Garlic and oregano oil / लहसुन और अजवायन का तेल

एक लहसुन का गठिया (arthritis) लेकर उसकी चार कलिया छीलकर तीस ग्राम सरसों के तेल में डाल दें! अब उसमे दो ग्राम (आधा चम्मच) अजवायन के दाने डालकर धीमी-धीमी आंच पर पकाएं।

लहसुन और अजवायन काली पड़ने पर तेल उतारकर थोड़ा ठंडा कर छान ले।

इस सुहाते-सुहाते गर्म तेल की मालिश करने से हर प्रकार का बदन का दर्द दूर हो जाता है!

Amount can be increased as per requirement./ आवश्यकता अनुसार मात्रा बढ़ाई जा सकती हैं!

Camphor oil (कपूर का तेल)

10 ग्राम कपूर 200 ग्राम सरसो का तेल- दोनों को शीशी में भरकर मजबूत कार्क लगा दे तथा शीशी धुप में रख दे। जब दोनों वस्तुएं मिलकर एक दम घुल जाये तो

इस तेल की मालिश से वात विकार, नसों का दर्द, पीठ और कमर का दर्द, हिप-शूल, मांसपेशियों के दर्द और सब प्रकार के दर्द शीघ्र ही ठीक हो जाते है। ये सरसों के इलावा नारियल के तेल में भी बनाया जा सकता हैं।

Saavadhanee – Is tel ko maa agar aapna chest par lagana se doodh band ho jata hai

Inhe bhi juru dekha

yoga kasie sahi exercise karna ke posture

Nimbu ke fyaad for skin,weight loss,hair nimbu pani benefits tips 

About the author

admin

Leave a Comment

DMCA.com Protection Status